मध्यप्रदेश में 15 मई तक कोरोना कर्फ्यू, सबकुछ रहेगा बंद

सुर्खियाँ

मध्यप्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के चलते बेकाबू हो रहे हालातों के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Cm Shivraj Singh Chouhan) ने बड़ा फैसला लिया है। पूरे प्रदेश में अब 15 मई तक कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) घोषित कर दिया गया है। इस दौरान कड़ाई से जनता कर्फ्यू का पालन कराया जाएगा और जरुरी सेवाओं को छोड़कर सभी चीजें बंद रहेंगी। और इस दौरान शादी समारोह भी प्रतिबंधित रहेंगे। इतना ही नहीं सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सभी राजनैतिक दलों, सामाजिक संगठनों और स्वयंसेवियों से अपील कि है कि वे कोरोना की इस जंग में एक साथ होकर काम करें। मध्यप्रदेश में 15 मई तक कोरोना कर्फ्यू लगाए जाने की जानकारी सीएम शिवराज सिंह चौहान के ऑफिस के ट्विटर हैंडल से दी गई है। जिसमें एक के बाद एक कई ट्वीट किए गए हैं।

पहला ट्वीट

  • आज मैं आपसे आह्वान कर रहा हूं कि 15 मई तक हम सबकुछ बंद करें। कड़ाई से जनता कर्फ्यू का पालन हो। मैं चाहता हूं आने वाले दिनों में जनजीवन सामान्य हो जाये। इसलिये कुछ दिन हम कड़ाई कर लें: CM

दूसरा ट्वीट

  • विवाह, शादी अभी न करें। विवाह कोरोना संक्रमण के सुपर स्प्रेडर हैं। अलग-अलग जिले अपनी परिस्थितियों पर विचार कर भीड़ को कम करने का प्रयास करें। मई में शादियां न हों ये फैसला लिया जाये ताकि संक्रमण से बचा जा सके।

तीसरा ट्वीट

  • मैं हर राजनीतिक पार्टी, सामाजिक संगठनों और स्वयंसेवियो से अनुरोध करता हूँ कि ये मिल के काम करने का समय है। राजनीतिक मतभेदों के लिये बहुत समय है। कभी भी लड़ लेंगे। लेकिन ये इस समय मानवता पर संकट है सभी को मिलकर काम करना होगा।

चौथा ट्वीट

  • मैं सभी का सहयोग चाहता हूं। आप सभी जानते हैं कि कोरोना के खिलाफ हमारा देश, प्रदेश, पूरी दुनिया युद्ध लड़ रही है। मैं आभारी हूं जनता का, जन प्रतिनिधियों का, स्वयंसेवी, सामजसेवी संगठनों का जिन्होंने इस युद्ध में सरकार का भरपूर सहयोग दिया है।

पांचवा ट्वीट

  • 21 अप्रैल तक मध्यप्रदेश देश में संक्रमित राज्यों के मामले 7वें नंबर पर था। आज आपके ही सहयोग से हम 14वें नंबर पर आ गये हैं। पॉजिटिविटी रेट 25 प्रतिशत तक पहुंच गई थी अब 18 प्रतिशत के करीब आ गई है। रिकवरी अगर देखें तो ये 85.13 प्रतिशत हो गई है।

छठवां ट्वीट

  • गांव गांव में छोटी-छोटी टीम बन जाये जो विकेंद्रित तरीके से काम करें। हम भोपाल में बैठकर संक्रमण नहीं रोक सकते। इसलिये सभी का सहयोग अत्यंत आवश्यक है। जिन गांवों में पॉजिटिव केस हों वहां मनरेगा के काम भी बंद कर दिये जायें। हम अनाज देंगे जरूरतमंदों को

सातवां ट्वीट

  • कई लोगों की मानसिकता है कि इस बीमारी को छुपाते हैं, इसे न छुपायें। किल कोरोना अभियान की टीमें अब मरीजों को ढूंढकर वहीं के वहीं उनका इलाज करेंगी। उन्हें तत्काल दवाइयां मिलेंगी। किसी घऱ में 15 मई तक कोई संक्रमित छूट न जाये। एक एक व्यक्ति को ढूंढ़ कर निकालना है

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.