pak-is-making-strategies-in-kulbhushan-jadhav-case

PAK जाधव मामले में स्ट्रैटजी बनाने में जुटा, शरीफ ने अफसरों के साथ की मीटिंग

सुर्खियाँ

इस्लामाबाद. कुलभूषण जाधव मामले में हेग की इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में अगली सुनवाई 8 जून को होने वाली है। इसके लिए स्ट्रैटजी बनाने के मकसद से नवाज शरीफ ने देश के टॉप सिविल और मिलिट्री ऑफिशियल्स के साथ मीटिंग की, जिसमें इस मामले में पाक के मौजूद ऑप्शन और अपने कदमों के बचाव की तैयारी पर चर्चा की गई। बता दें कि पाक मिलिट्री कोर्ट ने इंडियन सिटीजन जाधव को फांसी की सजा सुनाई है। इससे पहले 15 मई को आईसीजे में इस मामले की सुनवाई हुई थी, फैसला 18 मई को आया था। आईसीजे ने आखिरी फैसला होने तक पाक से फांसी की सजा रोकने को कहा है। नेशनल सिक्युरिटी कमेटी की मीटिंग हुई…
– पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक जाधव मामले में पाक की नेशनल सिक्युरिटी कमेटी (NSC) की मीटिंग बुधवार को हुई। इसमें शरीफ के अलावा आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा, चेयरमैन ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी जनरल जुबैर हयात, नेवी चीफ एडमिरल मुहम्मद जकुल्लाह, एयरफोर्स चीफ सुहैल अमान, पाक की खुफिया एजेंसी आईएसआई के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल नावेद मुख्तार शामिल हुए।
– सरकार की तरफ से इस मीटिंग में डिफेंस मिनिस्टर ख्वाजा आसिफ, फाइनेंस मिनिस्टर इशहाक डार, इंटीरियर मिनिस्टर चौधरी निसार अली खान, प्लानिंग मिनिस्टर अहसान इकबाल, पीएम शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज और नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) नासिर खान जंजुआ ने शिरकत की।
आईसीजे में एडहॉक जज अप्वाइंट करेगा पाक
– पाक के अटॉर्नी जनरल अश्तार औसफ अली ने 30 मई को नेशनल सिक्युरिटी पर पार्लियामेंट कमेटी को यह बताया था कि पाकिस्तान आईसीजे में एडहॉक जज अप्वाइंट करेगा और वे खुद पाक की लीगल टीम की अगुआई करेंगे।
– NSC की मीटिंग में इस बात पर भी चर्चा हुई कि आईसीजे के लिए किसे एडहॉक जज अप्वाइंट किया जाए। इसके लिए कई पूर्व जजों के नामों पर विचार किया गया।
जल्द फांसी के लिए PAK सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन
– कुलभूषण जाधव को जल्द फांसी देने के लिए कुछ दिनों पहले पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट में पिटीशन दायर की गई है। ये पिटीशन एक वकील मुजामिल अली की तरफ दायर की गई है। पिटीशन में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट को सरकार को आदेश देना चाहिए कि वह जाधव के मामले में जल्द कार्रवाई करे।
– पिटीशनर ने सुप्रीम कोर्ट से ये भी रिक्वेस्ट की है कि अगर जाधव की फांसी की सजा पलट दी जाती है तो भी उसे जल्द फांसी दिए जाने का ऑर्डर दिया जाना चाहिए।
क्या है मामला?
– पाक की मिलिट्री कोर्ट ने जाधव को जासूसी और देश विरोधी गतिविधियों के आरोप में फांसी की सजा सुनाई है। भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था। इंडियन नेवी से रिटायरमेंट के बाद वे ईरान में बिजनेस कर रहे थे।
– हालांकि, पाकिस्तान का दावा है कि जाधव को बलूचिस्तान से 3 मार्च 2016 को अरेस्ट किया गया था। पाकिस्तान ने जाधव पर बलूचिस्तान में अशांति फैलाने और जासूसी का आरोप लगाया है।
– इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की तरफ से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने 8 मई को पिटीशन दायर की थी। भारत ने यह मांग की थी कि भारत के पक्ष की मेरिट जांचने से पहले जाधव की फांसी पर रोक लगाई जाए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.